समीर वानखेडे एक भारतीय सरकारी कर्मचारी, आईआरएस अधिकारी,Directorate of Revenue Intelligence और मुंबई, महाराष्ट्र entrepreneur  हैं। उन्हें देश में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) के जोनल डायरेक्टर के रूप में भी जाना जाता है। आज हम बात करने जा रहे हैं समीर वानखेडे की, जो इस समय गूगल पर ट्रेंड की वजह से काफी सर्च कर रहे क्योंकि 2 अक्टूबर 2021 को उन्होंने Cordelia Cruise’s Empress ship पर छापेमारी का नेतृत्व किया था

समीर वानखेडे महाराष्ट्र के रहने वाले हैं और 2008 बैच के भारतीय राजस्व सेवा आईआरएस अधिकारी हैं। आईआरएस में शामिल होने के बाद, उनकी पहली पोस्टिंग मुंबई के छत्रपति शिवाजी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर हुई थी। यहां डेप्युटी कस्टम कमिश्नर के पद पर तैनात थे।

उनकी काबिलियत और काम में तीखेपन को देखते हुए उन्हें कुछ मामले के सिलसिले में आंध्र प्रदेश और फिर दिल्ली भेज दिया गया। समीर को ड्रग्स और ड्रग्स से जुड़े मामलों का विशेषज्ञ माना जाता है.

बहुत कम लोग जानते हैं कि समीर वानखेडे की पत्नी क्रांति रेडकर काफी लोकप्रिय अभिनेत्री हैं। क्रांति ने अजय देवगन के साथ फिल्म गंगाजल में काम किया है। इसके अलावा वह कई टीवी सीरियल में काम कर चुकी हैं। बॉलीवुड तुलना में क्रांति मराठी सिनेमा में अधिक सक्रिय हैं,

समीर वानखेड़े को जिनका जन्म 14 दिसंबर 1979 को मुंबई, भारत में हुआ था। समीर वानखेड़े विकिपीडिया के अनुसार, वह मराठा वर्ग के हैं। 2021 तक, समीर वानखेड़े की उम्र 43 साल है उन्हें देश में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) के जोनल डायरेक्टर के रूप में भी जाना जाता है। सोशल मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, उन्होंने 2 अक्टूबर 2021 को कॉर्डेलिया क्रूज के एम्प्रेस शिप पर छापेमारी का नेतृत्व किया।

मुंबई पुलिस, विशेष रूप से गोरेगांव पुलिस ने हमारे टीम की मदद की, पांच टीम वहां एक छापेमारी का नेतृत्व करने के लिए गया और इन को लगभग 60 से 70 लोगों को दोषी ठहराया, ताकि वे व्यवसायी को बंद कर सकें।तब भी हमें पता चला कि इसे कैसे पकड़ना है और उससे एलएसडी की एक व्यावसायिक राशि का पुनर्निर्माण करना है

मीडिया सूत्रों के मुताबिक, समीर वानखेड़े को 2008 बैच में आईआरएस अधिकारी के रूप में चुना गया था।नतीजतन, उन्हें मुंबई में छत्रपति शिवाजी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर भारतीय राजस्व सेवा के उप सीमा शुल्क आयुक्त के रूप में तैनात किया गया था।बाद में, उन्हें आंध्र प्रदेश और दिल्ली में पदोन्नत किया गया।

उन्हें ड्रग केस का व्यापक ज्ञान है, यही वजह है कि उन्हें सुशांत सिंह के आत्महत्या मामले की जांच के लिए एक वरिष्ठ अधिकारी के रूप में नियुक्त किया गया था।बता दें, ये वो अफसर हैं जिन्होंने सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद बॉलीवुड में तहलका मचा दिया था.

जैसा कि सभी जानते हैं कि सुशांत की मौत का राज बॉलीवुड में ड्रग कनेक्शन था।इस दौरान एनसीबी ने रिया चक्रवर्ती, दीपिका पादुकोण, सारा अली खान, रकुल प्रीत सिंह समेत कई अन्य हस्तियों को पकड़ा।मीडिया सूत्रों के मुताबिक समीर वानखेड़े को उत्कृष्ट प्रशासनिक अधिकारी Jamadar Bapu Laxman Lamkhede Award for Lokmat पुरस्कार से नवाजा गया.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *