सनातन परंपरा में दीपावली को सुख-समृद्धि दिलाने वाला सबसे बड़ा त्योहार माना गया है. मान्यता है कि इसी दिन भगवान श्री राम लंका पर विजय पाकर अयोध्या वापस लौटे थे, जिसके बाद अयोध्यावासियों ने उनके स्वागत में दिये जलाकर दिवाली मनाई थी. हालांकि यह महापर्व शुभ एवं लाभ के देवता भगवान गणेश और धन की देवी मां लक्ष्मी और धन के देवता कुबेर की पूजा के लिए विशेष रूप से जाना जाता है. चूंकि कलयुग में सभी सुखों को पाने के लिए धन की जरूरत होती है, ऐसे में हर हिंदू परिवार इस दिन धन की देवी मां लक्ष्मी की विशेष रूप से साधना आराधना करता है, ताकि उसे जीवन से जुड़े सभी कष्ट दूर हों और उसे सुख-समृद्धि हासिल हो. यदि आपकी भी यही मनोकामना है तो इस दिवाली मां लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए इन उपायों को जरूर करें.

सारी बाधा दूर करेगा गणेश-लक्ष्मी का महायंत्र

गणपति ऋद्धि-सिद्धि के दाता माने गये हैं और धन की देवी मां लक्ष्मी हैं. ऐसे में इस दीपावली आप इन दोनों का संयुक्त यंत्र बनवाकर विधि-विधान से पूजा करें. दिवाली की रात दीपावली के दिन इस महायंत्र की पूजा करने के बाद इसे अपने धन स्थान में रख लें. गणपति और मां लक्ष्मी की कृपा से आपके जीवन में धन से जुड़ी सारी बाधा दूर होगी और आपके यहां पूरे साल धन-धान्य की कोई कमी नहीं होगी.

दिवाली की रात करें नागकेसर का महाउपाय

दीपावली की रात में चांदी के ढक्कन वाली डिबिया में नाग केसर शहद भर कर अपने धन स्थान में रख दें और इसे अगली दीपावली तक ऐसे ही रहने दें. इसके साथ शुद्ध घी का दीपक जलाकर प्रतिदिन विष्णुसहस्रनाम या फिर श्रीसूक्त का पाठ करें.

दिवाली की पूजा में मां लक्ष्मी को जरूर चढ़ाएं इत्र

दीपावली की रात में महालक्ष्मी जी की पूजा के समय इत्र की एक शीशी चढ़ाएं और उसे एक फूल में लेकर मां लक्ष्मी जी को अर्पित करें. इसके बाद पूजा में प्रयोग किये गये इत्र की शीशी का इत्र प्रसाद स्वरूप स्वयं लगा लें. दीपावली की पूजा से इस उपाय को शुरु करके पूरे साल प्रतिदिन करें

दिवाली के दिन करें नारियल का महाउपाय

यदि आपके जीवन में पैसों की किल्लत हो रही है और आर्थिक उन्नति की रात में बाधा ही बाधा आ रही है तो आपको दीपावली के दिन सूर्योदय से दो घंटे के भीतर नारियल से जुड़ा यह उपाय जरूर करना चाहिए. दीपावली वाले सुबह एक सूखे नारियल का गोला लेकर उसका मुंह काट लें. फिर घर के सभी सदस्य उसमें चीनी का बूरा, मेवे और देसी घी मिलाकर भर दें और पीपल या बरगद के पेड़ के नीचे इस प्रकार गाड़ दें कि उसका मुंह ऊपर की ओ दिखायी देता रहे. इस नारियल के गोले के चारों तरफ चीनी का बूरा बिखेर दें, ताकि चीटिंयां गोले में प्रवेश कर सकें. जैसे-जैसे चीटियां इस नारियल के गोले और उसमें रखी चीनी-मेवे को खाकर खत्म करती जाएंगी, वैसे-वैसे आपकी धन से जुड़ी दिक्कते दूर होती जाएंगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *