उत्तर प्रदेश में अयोध्या में बुधवार शाम को भव्य ‘दीपोत्सव’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया है जिसमें 12 लाख मिट्टी के दीए जलाए जाएंगे. इस बार यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार ने अयोध्या में दीपोत्सव का भव्य कार्यक्रम आयोजित किया है, जिसमें 12 लाख दीए जलेंगे, जिसमें  राम की पैड़ी पर 9 लाख और अयोध्या के बाकी हिस्सों में 3 लाख दीपक प्रज्‍जवलित होंगे.  Guinness Book of World Records की टीम दीयों की गिनती कर रही है. आज दीपोत्सव के बाद रिकॉर्ड बन जाएगा. दीपोत्सव कार्यक्रम की गूंज पूरी दुनिया में सुनाई देनेवाली है

इस आयोजन को लेकर अयोध्या में सात स्तरीय प्रणाली के साथ व्यापक सुरक्षा व्यवस्था की गई है. अयोध्या के एसएसपी शैलेश पांडे ने कहा, “शहर के बाहर से भीतरी घेरे में एक सात-परत सुरक्षा तंत्र तैनात किए गए है अयोध्या में सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत करने के लिए पुलिस, विशेष अभियान समूह और विशेष सुरक्षा बल को तैनात किया गया है. उन्होंने कहा कि हमने सुरक्षा की जांच करने और खुफिया जानकारी भेजने के लिए सिविल ड्रेस में कई पुलिसकर्मियों को भी तैनात किया है. सरयू नदी घाटों पर जीवन रक्षक उपकरणों के साथ चालीस नावें तैनात की गई हैं.”

बता दें कि हाल ही में लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) के एक आतंकवादी कमांडर द्वारा लिखित धमकी भरा पत्र मिला था और पत्र मिलने के बाद सुरक्षा बढ़ा दी गई है, जिसमें अयोध्या सहित 46 रेलवे स्टेशनों को उड़ाने की धमकी दी गई है. शहर की सीमाओं को सील कर दिया गया है और वीआईपी और आधिकारिक कारों को छोड़कर वाहनों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. वहीं, एम्बुलेंस की आवाजाही सुनिश्चित करने के लिए वहां विशेष ड्यूटी अधिकारियों को तैनात किया गया है

आज पूरे देश और सार्क देशों के लगभग 200 कलाकार शोभा यात्रा में भाग लेंगे, जिसके दौरान वे रामायण के दृश्यों का चित्रण करेंगे. इसके साथ ही राम कथा पार्क में विशिष्ट अतिथियों का स्वागत वैदिक मंत्रोच्चार से किया जाएगा.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे, जबकि अयोध्या की परंपरा और सांस्कृतिक विरासत पर एक पुस्तक का भी विमोचन भी किया जाएगा.