अनुपमा शो के हाल के एपिसोड में खूब हंगामा हुआ। अनुपमा जो कोशिश करती है परितोष के एक्स्ट्रा मैरिटल के सच को कैसे छिपाए, वो परितोष का नाटक देखकर खुद पर कंट्रोल नहीं कर पाती और गलती से सारा सच बोल देती है। अनुपमा की बात सुनकर किंजल के पैरों के नीचे से जमीन खिसक जाती है। वह अनुपमा से बोलती है कि मम्मी पूरा सच क्या है आप बताओ? इस पर परितोष कहता है कि मम्मी गलत समझ रही है तभी अनुज कहता है कि नहीं तोषू मेरी अनु गलत नहीं समझ रही है बल्कि तुम सभी को गलत समझा रहे हो।

तोषू कहता है कि आप चुप रहो और ये सुनकर अनुपमा को और गुस्सा आ जाता है और कहती है कि ऐ…अपने जीवनसाथी का अपमान करना तेरी आदत होगी, मेरी नहीं है। अगर मेरे पति से जरा भी बद्तमीजी से बात की न तो याद रख मैं तेरी मां हूं और आज भी मेरी आवाज और औकात तुझसे बहुत ऊंची है।

इसके बाद वनराज कहता है कि अनुज सही कह रहा है, अनुपमा कभी गलत नहीं समझ सकती। तूने मेरी बेटी किंजल को धोखा दिया, तेरी हिम्मत कैसे हुई? तभी राखी बीच में कहती है कि जैसे आपने किया था, बेटा वही करेगा जो बाप करता है।

वनराज ने लगाई क्लास
तभी वनराज कहता है कि जो मैंने किया था और जो तोषू ने उसमे जमीन आसमान का फर्क है और तोषू तूने सीखा भी तो यही सीखा। मेहनत करना नहीं सीखा, घर संभालना नहीं सीखा और सीखा भी तो ये सब।

शादी के नाम पर एक्ट्रेस से करता रहा रेप, गिरफ्तार हुआ मुंबई का बिल्डर
फिर किंजल पूछती है कि क्या मम्मी ने जो बोला वो सच है? तोषू कहता है कि मैं तुमसे प्यार करता हूं किजल। फिर किंजल कहती है कि खाओ हमारी बेटी की कसम? इसके बाद परितोष चुप हो जाता है।इसके बाद अनुपमा कहती है कि शुक्र है कि अपनी बेटी की कसम तो झूठी नहीं खाई। लेकिन कमाल है। कमाला है मर्दों का। अपनी बेटी की झूठी कसम नहीं खाते, लेकिन दूसरों की बेटी के साथ झूठे रिश्ते निभाते हैं, झूठे वादे करते हैं,वो भी एक दम आसानी से।

तोषू ने फिर दी सफाई
तोषू फिर कहता है कि मेरा किसी के साथ कोई चक्कर नहीं है। हां एक लड़की है, लेकिन मुझे उसका नाम भी नहीं पता। वो सिर्फ एक टाइमपास है। मेरे पास जॉब नहीं थी, किंजल के मूड स्विंग्स थे, मुझे ब्रेक की जरूरत थी तो मुझे ब्रेक चाहिए था और मेरा ना पापा और काव्या की तरह कोई अफेयर नहीं था। बस फिजिकल जरूरत थी बस और मैं प्यार तो किंजल से करता हूं और हमेशा करूंगा। माना की मैं थोड़ा सा बहक गया था, लेकिन अब मेरा पूरा फोकस मेरी बेटी और किंजल है। ये सब चलता है ये नॉर्मल है, आदमी ये सब करता है।

अनुपमा ने मारा थप्पड़
तभी अनुपमा खुद पर कंट्रोल नहीं कर पाती और परितोष को जोर का थप्पड़ मारती है और कहती है कि सज चलता है, सब चलता है तो औरत को क्यों नहीं चलता? देखो इसे शर्मिंदा तो दूर, इसे अपने पाप का एहसास तक नहीं है।

किंजल की शर्त
अब आने वाले एपिसोड में आप देखेंगे कि वनराज, परितोष को जोरदार थप्पड़ मारेगा और कहेगा कि मेरी शादी तेरी मां से समझौता थी, लेकिन फिर भी मैंने निभाया वो रिश्ता। लेकिन तू तो किंजल से प्यार करता था न। वहीं किंजल कहेगी कि मैं तुम्हारी गलती माफ कर दूंगी, लेकिन एक शर्त है। मैं भी यही गलती करूंगी, सब टाइमपास होगा और कुछ भी सीरियस नहीं होगा। तभी परितोष चिल्लाता है तो किंजल कहती है कि चिल्लाओ मत।